एक एसी सुरंग Screaming Tunnel जहा आती है रुहो की चीखे

मृत्‍यु लोक में रूहों और आत्‍माओं के रूप में भटकता रहता है। ऐसी रूहें जिनके साथ कोई हादसा हुआ हो, हत्‍या हुयी हो, या फिर उन्‍होंने आत्‍महत्‍या की हो। ये सारी आत्‍माएं परमात्‍मा की मर्जी से पहले ही अपना शरीर छोड़ देती हैं, लेकिन उन्‍हे अपना समय पूरा करने के बाद ही मृत्‍युलोक से मुक्‍ती मिलती है। अभी तक आपने इस सिरीज के लेख में बहुत सी भयानक इमारतों, होटलों, अस्‍पतालों के बारें में पढ़ा लेकिन इस बार आपको एक ऐसे टनल Screaming Tunnel के बारें में बताया जायेगा जहां रूह का खौफ इतना है कि वहां इंसान माचिस की एक तीली जलाने मात्र से कांप उठता है।

यह सुरंग Screaming Tunnel कनाडा के ओंटेरियो के नियागरा फाल्‍स के पास स्थित है। इसका निर्माण सन 1900 में उस इलाके में पानी के बहाव को पास के खेतों की तरफ मोडने के लिए ग्रांड ट्रेक रेलवे लांइस के ठीक नीचे किया गया जो कि लगभग 16 फीट ऊंची और 125 फीट लंबी है। सुरंग के निर्माण के बाद सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन कुछ समय बाद ही एक ऐसा हादसा हुआ जिसने आसपास के लोगों को हिला कर रख दिया।इसके आस-पास उस वक्‍त कुछ खास आबादी नहीं थी और इस सुरंग में हमेशा पानी भी नहीं भरा रहता था। जब पानी बढ़ जाता था तब इस Screaming Tunnel  का प्रयोग किया जाता था। उस समय इसमें कई हादसे हुए जिनमें से एक हादसा ऐसा था जिससे आज भी ओंटेरियो उबर नहीं पाया है।

यह उस समय की बात है जब इस सुरंग Screaming Tunnel में पानी नहीं था। उस समय इसके दक्षिण की तरफ एक लकड़ी का घर था। उस घर में एक बाप-बेटी रहा करते थे। उस रात सुंग के पास बहुत तेज हवा चल रही थी और चारों तरफ भयानक अंधेरी रात थी। इसी दौरान उस मकान में अचानक आग लग गई। उस समय घर में वो लड़की अकेले अपने पिछले कमरे थी। हवा का रूख भी उसी तरफ था और देखते-देखते आग ने पूरी तरह उस मकान को अपने आगोश में ले लिया। तब लड़की को आग का पता चला तो वो घर के पिछले हिस्‍से से भागने के लिए उठी, तब तक आग ने रौद्र रूप धारण कर लिया था और मकान का एक हिस्‍सा उसके ऊपर आ गिरा।

लड़की किसी तरह वहाँ से भागी लेकिन उसके कपड़ो में आग लग चुकी थी। लड़की खुद को बचाने के लिए सुरंग की तरफ भागी ताकि वो पानी में कूद सके। लेकिन जब तक वो वहाँ तक पहुंची वो बुरी तरह जल चुकी थी और जब उसने सुरंग में छलांग लगाई तो सीधे जमीन पर आ गिरी क्योंकि Screaming Tunnel में उस समय पानी नहीं था। आग से बुरी तरह लिपटी हुई उस लड़की की चीख उस इलाके में गूंज गई। उसकी चीखें इतनी भयानक थी कि आस-पास के कई लोग वहाँ आ पहुँचे और ऊपर से आग से लड़ती हुई इस लड़की को देखते रहे, लेकिन किसी ने भी उसे बचाने की हिम्‍मत नहीं की और आखिरकार आग से हारकर उस जवान लड़की ने वहीं दम तोड़ दिया।

इसके अलावा एक और हादसा इस सुरंग में हुआ, यह हादसा भी एक युवती के साथ ही हुआ। सुरंग के आस-पास के लोगों का मानना है कि एक बार रात में कुछ वहशी दरिन्‍दों ने एक लड़की के साथ इसके अन्‍दर सामूहिक बलात्‍कार किया था। इतना ही नहीं बलात्‍कार करने बाद उन दरिन्‍दों नक अपनी काली करतूत छिपाने के लिए उस बेचारी लड़की के ऊपर तेल डालकर उसे जला दिया था। लोगों का कहना है कि उस समय वो लड़की भी बहुत भयानक रूप से चीख रही थी। लेकिन आस-पास के लोलों ने पुराना हादसा देखा था तो उन्‍हें लगा कि शायद उसी लड़की की रूह चीख रही है।

सुबह जब लोग सुरंग के पास गये तो देखा कि एक लड़की का अधजला शव जमीन पर पड़ा था और सुरंग की दिवारों पर उस लड़की के जलने के निशान भी मौजूद थे।तब से लेकर आज तक उस सुरंग के आस-पास रात में गुजरने से भी लोग डरते हैं। लोगों का कहना है कि आज भी रात में कोई उधर से गुजरता है तो अंदर से सिसकने और शरीर के जलने जैसी बदबू आती हैं।

ऐसा माना जाता है कि कोई भी सुरंग में रोशनी करता है तो उन दोनों ही लड़कियों की रूहें परेशान हो जाती हैं। एक बार सुरंग की सफाई के लिए एक आदमी सुरंग में गया था। उस समय वो सुरंग की सफाई करते-करते थक गया था। उसी समय उसने पास से एक सिगरेट निकाली और उसे जलाने के लिए माचिस निकाली। जैसे ही उसने माचिस जलाई माचिस बुझ गई, उसने दोबारा कोशिश की तो तेज हवा सुरंग की दूसरी तरफ से चलने लगी। उसके बाद वो वहाँ से उठा और हवा से बचने के लिए सुरंग के अंदर चला गया और एक कोने में जाकर माचिस जलाने लगा।

जैसे ही उसने तीसरी बार माचिस जलाई तभी एक भयानक चीख उस सुरंग Screaming Tunnel  में गूंज गई और उस सफाईकर्मी ने अपने सिर के ठीक ऊपर एक लड़की के साये को देखा जो कि किसी छिपकली की तरह सुरंग की दीवार से चिपकी थी, उसका पूरा चेहरा जला था और वो बार-बार चीख रही थी। चीख इतनी भयानक थी कि आस-पास के लोगों ने भी उसे सुना।

सुरंग Screaming Tunnel  के ऊपर काम कर रहे लोग दौड़कर सुरंग के अंदर झुक कर देखने लगे तो उन्‍होने देखा कि वो आदमी सुरंग के अंदर जमीन पर बेहोश पड़ा है और उसके हाथ में माचिस थी। किसी तरह उसे बाहर निकाला गया और उसे इलाज के लिए अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। वो आदमी जिंदा बच गया और उसने आप बीती लोगों को बताई लेकिन कुछ दिनों के बाद उसका मानसिक संतुलन बिगड़ गया।आज भी उन दोनों रूहों को लोग महसूस करते हैं।

इस समय भी यदि आप सुरंग के बीचों बीच जाकर माचिस की तीली जलाते हैं तो एक भयानक चीख आप आसानी से सुन सकते हैं। लेकिन इसके लिए बहुत हिम्‍मत की जरूरत है, ऐसा करने के दौरान आपकी जान पर भी बन सकती है।अगर आपको ये पोस्ट पसंद आयी हो तो प्लीज् लाइक और शेयर करना ना भूले

One Response

  1. Mahesh Chavhan September 19, 2017

Leave a Reply