सर कटे भूत से हुआ सामना Scary Story in Hindi

Scary Story in Hindiमित्रो मेरा नाम आकाश है और मुझे हॉरर कहानियाँ Scary Story in Hindi लिखने का शौक है | एक दिन मै इन्टरनेट पर खोजता हुआ IndianGhostStories.Com पर पंहुचा और मैंने यहा कई रोचक कहानिया पढी | तो मैंने सोचा क्यों ना मै भी अपनी कहानी प्रेषित करू | वैसे इस ब्लॉग की अधिकतर कहानिया वास्तविक है लेकिन मैं आपको एक फिक्शनल कहानी बताने जा रहा हु |

 

ये कहानी आज से 12 साल पुरानी है तब मै 6 क्लास में पढता था | हमारे घर के पास में एक ऐसा घर है जिसे मैंने कभी खुला नहीं देखा | इस घर को लोग प्रेतबाधित बताते है और कोई भी वहा जाने की हिम्मत नहीं करता है | इस घर के खिड़की दरवाजे सब टूटे हुए थे |

 

एक दिन स्कूल से आने के बाद मैंने और मेरे दोस्तों ने मिलकर इस भूतहा घर में जाने का प्लान बनाया | मै बचपन में बहुत निडर था लेकिन मेरे दोस्त थोड़े डरपोक किस्म के थे | उन्होंने पहले तो मना कर दिया कि उनके घर वालो को पता चलेगा तो अपनी चमड़ी उधेड़ देंगे | लेकिन मेरे ज्यादा समझाने पर वो राजी हो गये |

 

हम टूटी दीवार से घर के आंगन में आये वहा पर एक टूटी खिड़की थी जहा से अंदर जाना आसान था | हम वहा से अंदर चले गये | पुरे घर में अँधेरा छाया हुआ था और उस घर से अजीब बदबू आ रही थी | हम घर की चीजो को ध्यान से देख रहे थे तभी हमे एक दीवार पर कोयले से लिख रखा था “मुझे मार दिया गया है ” | हम ये देखकर डर गये लेकिन फिर सोचा कोई मजाक करने के लिए लिख गया होगा |

 

अब हम उपर जाने वाली सीढियों के पास आये तो पहली सीढि पर लिख रखा था “मै उपर कमरे में हु ” | ये देखकर मेरे दोनों दोस्त घबरा गये लेकिन मै नहीं डरा और उनको उपर ले गया | उपर तीन कमरे थे जिसमे से एक बंद पड़ा था हम उस कमरे में गये | कमरे में घुसते ही सामने दीवार पर लिखा था “मुझे इस कमरे में ढूंढो” | हम वहा की अलमारियो और बक्सों को देखने लगे जो पुरी तरह गल चुके थे | तभी एक अलमारी के अंदर लिख रखा था “मेरा सिर दाए कमरे में और धड़ बाए कमरे में है ” | ये देखते मेरे दोस्त बुरी तरह घबरा गये और वहा से भागने लगे | लेकिन मैने उन्हें जकड़ लिया और जाने नहीं दिया |

 

अब हम बांये कमरे में जाकर धड़ ढूंढने लगे और वहा पर एक बक्से में एक सडा गला शव पड़ा था | इस बार तो मै भी डर गया लेकिन बिना पुरी तहकीकात किये वहा से नहीं जाने वाला था | उस बक्से के पास चटाई पर लिखा था | “तुम्हारे पीछे मेरा सिर दुसरे कमरे से आ रहा है ” | अचानक हमे पीछे से कोई परछाई दिखाई दी | और हमने देखा कि वो किसी लड़के का सिर था | अब हम बुरी तरह घबरा गये और वहा से चीखते हुए निकल पड़े |

 

मैंने ये बात घर वालो को बताई तो पहले तो उन्होंने मुझे खूब पीटा और डांटा लेकिन फिर उन्होंने पुलिस को फ़ोन लगाया | पुलिस ने उस घर में तहकीकात की तो उन्हें बक्से में बंद शरीर तो मिल गया लेकिन सिर कही नहीं मिला | तबसे आज तक मै ऐसे भूतहा घरो में तहकीकात करने से डरता हु |

 

तो मित्रो आपको मेरे कहानी कैसी लगी कमेंट में जरुर बताये ताकि आगे भी हॉरर कहानिया लिखने का प्रयास कर सकू | IndianGhostStories.Com को मेरी कहानी पब्लिश करने के लिए धन्यवाद |

loading...
Loading...
  • VIKAS

    TUNE YEH NHI SOCHA KI 12 SAL MEIN BODY MILEGI BHEE NAHIN

    • mustufa

      Yaa ur right

  • REENA

    YEH MERE BAHADUR BAACHEE SHAABASH

    • mustufa

      Tumlogo mein zara bhi dimaag nhi guyz it is not a true story it is fictious story
      Nice one……
      Keep it up
      We are waiting for new one…

  • Darshana

    yar kya uchala kya uchala hain main to seriusly fann ho gaye tumari why are not try to write a horror movie i tell it was a febbbbuless…. think about it

    • Indian Ghost Stories

      Hi Darshana your idea is not bad to make movie only if you can produce it because we don’t have budget to make movies. Otherwise you comments on our blog was also awesome . Keep commenting and Let us know feedback on our blogs. Thanks.

  • gopal mandal

    i alsooooooooooooooooooooooooooo scareeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeeee
    thanx for posting

  • pinki gouri

    12 salo mai body gal jayegi sad jayegi is khani koi dm nhi hai bus ek fun hai hai its very funny.

  • Manish puri

    Mere sath b same aisa hi hua main b apne dosto k sath bhootan ghar me gya vaha hamare pe kisi paranormal shakti ne hamla kar diya to hamare pas aag ka bandobast tha isi liye ham vaha se bach nikle