इंसान की मौत के बाद भूत बनने का रहस्य Mystery of Became Ghost After Death

Loading...

मित्रो अक्सर इस बात को नकारते है कि भूत नहीं होते है |  लेकिन बहुत कम लोग जानते है कि भूत तो होते है लेकिन हर किसी व्यक्ति को नहीं दिखते है | अब आपका यह सवाल होगा कि अगर भूत होते है तो भूत बनते कैसे है | आइये आपको इस रहस्य से अवगत करवाते है |Mystery of Became Ghost After Deathमित्रो जैसा कि आप जानते है जब किसी इन्सान की मौत होती है तो उसका शरीर उसका साथ छोड़ देता है लेकिन उसके दिमाग के विचार , उसका व्यवहार और उसकी आत्मा इस ब्रह्मांड में विचरित करती रहती है | इन विचरित करती हुई आत्माए भूत का रूप धारण कर लेती है | ये जो आत्मा का रूप होता है वो ना आकाशलोक ने रहता है और ना ही पाताललोक में रहता है ना स्वर्ग में होता है और ना ही नरक में होता है वो इस भूलोक पर विचरण करता रहता है  |  अब आप सोच रहे होंगे कि अगर ऐसा होता है तो हर इन्सान भूत बनता है लेकिन ये मान्यता गलत है हर इन्सान भूत नहीं बनता है |Mystery of Became Ghost After Death3अपनी अधूरी इच्छा को पुरी किये बिना अगर किसी व्यक्ति की मौत हो जाती है तो अपनी अधूरी इच्चाओ को पूरा करने के लिए उसकी आत्मा इस भूलोक पर रह जाती है | ये अपनी अधूरी इच्छाओं को बदला लेकर , दुसरे इंसानों को परेशान कर और समाज की गलतियों को मिटाकर करते है | अब आपका सोचना होगा कि अगर कोई इन्सान अपनी अधूरी इच्छा पुरी ना करना चाहता हो तो अगर फिर भी भूत बन जाता है तो इसका निर्धारण कौन करता है कि किसको मुक्ति मिल जायेगी और कौन भूत बन जाएगा  आइये जाने |

loading...

जब किसी इन्सान की मौत होती है तो उसकी मौत के कई कारण हो सकते है और उन्ही कारणों के आधार पर इस चीज का निर्धारण होता है जैसे इन्सान ने अपने जीवन में कैसे कर्म किये है या इन्सान की मौत प्राकृतिक या अप्राकृतिक कारणों से हुई हो या इंसान का दाह संस्कार में कोई विघ्न आया हो | इन सभी कारणों के अलावा कई ऐसे कारण होते है जो इन्सान को भूत बनने को प्रेरित करते है |Mystery of Became Ghost After Death4

अधिकतर वो इन्सान मौत के बाद भूत बनते है जिनकी कोई इच्छा अधूरी रह गयी हो या मानसिक नकारात्मक कारणों से मौत हुई हो जैसे आत्महत्या करना या किसी के लिए प्रतिरोध अधुरा रह गया हो या किसी के लिए जलन हो या उनकी मानसिक प्रुवृति की इन्सान को नुकसान पहुचाना हो या जिनके कर्म-कांडो में कमी रह गयी हो  | वो इंसान भूत नहीं बनते है जो धार्मिक विधियों से इश्वर प्राप्त करने का प्रयास करते रहे हो या जीवन की कोई इच्छा अधूरी ना रही हो और जिनके दिमाग में मानसिक विकार कम हो | इसलिए अधिकतर संत लोग कभी भूत नहीं बनते है |

मित्रो हमारे इस लेख का उद्देश्य अन्धविश्वास फैलाना नही है अपितु वैज्ञानिक कारणों के तहत किस तरह किस तरह इन्सान मौत के बाद भूत बनते है ये बताया गया है | अगर आपको लेख पसंद आया तो अपने विचार कमेंट के जरिये बयान करे ताकि हम अगले लेखो भूतो के अस्तित्व को लेकर ओर जानकारी आपको प्रदान कर सके |

Also Read

Loading...

4 Comments

  1. SKUMAR SONI December 21, 2015
  2. Abdul Hamid Inamdar June 15, 2016
    • Garg September 28, 2016
      • Sandeep September 20, 2017

Leave a Reply