घुंघट उठाते ही नजर आ गयी भूतनी Bhootni Dulhan

दुनिया में हर इंसान चाहता है कि उसे सुंदर दुल्हन मिले लेकिन सोचिये अगर शादी के बाद घुंघट उठाते ही वो दुल्हन भूतनी निकले तो आपका क्या हाल होगा ? आपका तो पता नहीं लेकिन भारत के बिहार राज्य के दरभंगा जिले में एक नेहरा नाम का गाँव है जहा ऐसा ही कुछ हुआ है आइये आपको पुरे किस्से पर लेकर चलते है

Bhoot dulhan

नेहरा नाम के इस गाँव में स्थानीय लोग बताते है कि बहुत साल पहले इस गाँव में एक नौजवान की शादी हुई और वो जब वापस दुल्हन लेकर लौट रहे थे | उस समय में डोली में बिठाकर दुल्हन को विदा करने का प्रचलन था | जब डोली उठाने वाले रास्ते में थक गए तो उन्होंने उस डोली को एक पेड़ के नीचे रख दिया और आराम करने लगे और उनकी आँख लग गयी | कहा जाता है कि इसी दौरान एक भूतनी ने उस दुल्हन को मारकर उसके शरीर पर कब्ज़ा कर लिया | इस वाकिये के बारे में किसी को भी पता नहीं चला और डोली दुल्हे के घर पहुच गयी |

 

रात को जब दूल्हा सुहागरात में अपने कमरे में गया और जैसे ही दुल्हन का चेहरा देखने के लिए घुंघट उठाने लगा तो अचानक उसे जोरदार प्यास लगी और पानी पीने की इच्छा जताई तो उस दुल्हन ने वहा बैठे बैठे अपने हाथ लम्बे क्र कुए से पानी का लौटा भर लाई | इतना देखते ही दुल्हे के होश उड़ गए और वो जमीन पर गिरकर बेहोश हो गया | और जब उसे होश आया तो उसके सामने उसकी दुल्हन एक भूतनी Bhootni Dulhan के रूप में बैठी थी और उसने दुल्हे से कहा कि “तुम मेरा राज जान चुके हो इसलिए तुम्हारे पास मै नहीं रह सकती और ऐसा किया तो तुम्हारी जान जा सकती है |

 

मै इस गाँव में एक दुल्हन की तरह आयी हु और आज से ये सारा गाँव मेरी निगरानी में रहेगा | सारे गाँव वालो को बता देना कि वो अपने घर में रखा चूल्हा अगर उत्तर में हो तो उसे दक्षिण में रखे जिससे गाँव उन्नति और विकास करेगा ” भूतनी Bhootni Dulhan के यह कहते ही वो गायब हो गयी और उस दुल्हे ने सारी बात गाँव वालो को बतायी और सारे गाँव वालो ने चूल्हे की दिशा में कर दी|

 

शास्त्रों में बताया जाता है कि चूल्हे को दक्षिण में रखना अशुभ माना जाता है क्यूंकि भूतो और यम की दिशा दक्षिण दिशा होती है | सामान्यत चूल्हे को कही भी इस दिशा में नहीं रखते लेकिन इस गाँव के लोग कही भी चले जाए लेकिन अपने घर के चूल्हे की दिशा दक्षिण में ही रखते है

loading...
Loading...